श्री विट्ठल रुक्मिणी मंदिर में विविध कार्यक्रम

श्री विट्ठल रुक्मिणी मंदिर में विविध कार्यक्रम Various programs at Sri Vitthal Rukmini Temple

पंढरपुर – इस वर्ष जया एकादशी माघ शुद्धा 11/23/02/ 2021 को पूरा हुआ। इस यात्रा के दौरान, माघ शुद्ध त्रयोदशी को पंढरपुर, महाराष्ट्र के श्री विठ्ठल सभा मण्डप द्वारा श्री।औसेकर महाराज में चक्रभजन करने की परंपरा है। तदनुसार , माघ शुद्ध त्रयोदशी गुरुवार, 25/02/2021 को,हभप श्री बाबा औसकर महाराज द्वारा श्री विट्ठल सभामण्डप में दोपहर 2.00 बजे से शाम 5 बजे तक चक्रभजन किया गया ।इस अवसर पर श्री गहिनीनाथ ज्ञानेश्वर महाराज औसेकर, मंदिर समिति के अध्यक्ष, संभाजी शिंदे, सदस्य, कार्यकारी अधिकारी विठ्ठल जोशी,बालाजी पुदलवाड,प्रबंधक उपस्थित थे। हर साल 1000 से 1200 भक्त इस चक्रभजन के लिए सभा भवन में होते हैं।लेकिन इस साल, कोरोना वायरस की पृष्ठभूमि के खिलाफ, चक्रि भजन 1 + 11 व्यक्तियों में एक प्रतीकात्मक और सीमित रूप में किया गया था।

श्री विठ्ठल रुक्मिणी मंदिर समिति ने वर्ष 2015 में पंढरपुर शहर और इसके आसपास के 28 देवताओं के मंदिरों को अपने कब्जे में ले लिया है।  मंदिर समिति ने इन पारिवारिक देवताओं के मंदिरों के संरक्षण का निर्णय लिया था। तदनुसार, पुरातत्व विभाग के पैनल पर एक वास्तुकार, प्रदीप देशपांडे को वास्तुकार के रूप में नियुक्त किया गया था। श्री देशपांडे ने पारिवारिक देवताओं के मंदिरों के निर्माण के लिए डिजाइन और बजट तैयार किया है। निम्नलिखित उदार दाताओं ने सेवा-उन्मुख आधार पर इन परिवार के देवताओं के मंदिरों को मुफ्त में पुनर्निर्मित करने की इच्छा व्यक्त की थी। पुणे के भक्तों ने विधानसभा हॉल, जहां विभिन्न त्योहारों, भजन, कीर्तन और अन्य अनुषंगी कार्यक्रमों को भी पुनर्निर्मित करने की इच्छा व्यक्त की है। श्री विठ्ठल सभामण्डप में आयोजित किए जाते हैं।  तदनुसार, इन सभी कार्यों का ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह  गुरुवार, २५/०२/२०२१ को सुबह १०.०० से १२.०० बजे के बीच श्री मंदिर के अध्यक्ष श्री गहिनीनाथ ज्ञानेश्वर महाराज औसेकर के नेतृत्व में आयोजित किया गया था।  श्रीमती शकुंतला नडगीरे, मंदिर समिति के माननीय सदस्य, संभाजी शिंदे, हभप ज्ञानेश्वर देशमुख (जलगांवकर), नगराध्यक्षा श्रीमती साधना भोसले और कार्यकारी अधिकारी विट्ठल जोशी, प्रबंधक बालाजी पुदलवाड और संबंधित दाता श्री पाचुंदकर पाटिल। श्रीकांत कोतालकर और मंदिर समिति के कर्मचारी उपस्थित थे।  

विस्तृत दाताओं | अनुमानित लागत रु।  (२) १  श्री ग।  रिद्धि सिद्धि गणपति मंदिर, गोपालपुर रोड, पंढरपुर।  |  दाता / मंदिर निधि 16.50 लाख 2 श्री।  लक्ष्मण पाटिल मंदिर, गोपालपुर रोड, पंढरपुर, राम बच्चन यादव, मुंबई।  8 लाख 3 |  श्री। अंबाबाई मंदिर, अंबाबाई पाटन, पंढरपुर, दीपक नारायण कर्नल, पुणे।  25 लाख 4 |  श्री। रोकडोबा मंदिर, हरिदास वेस, पंढरपुर, श्रीकांत कोतालकर, पंढरपुर लाख पांच लाख श्री।सोमेश्वर मंदिर,महादवार घाट,पंढरपुर,आशिम अशोक पाटिल, कोल्हापुर। श्री। विठ्ठल सबमण्डप, श्री। विठ्ठल रुक्मिणी मंदिर, पंढरपुर,नानासाहेब दिनकरराव पाचुंदकर पाटिल,पुणे (सागवान काम) कुल 127.5 लाख 

सेनिटाइज़र और मास्क का उपयोग सब कार्यक्रम के दौरान कोरोना वायरस की पृष्ठभूमि पर किया गया और आवश्यक सावधानी बरती गई।

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *