प्रदेश में कोरोना: 24 घंटे में 865 नए केस आए; लगातार दूसरे दिन नए केस 1000 से कम, मृतकों की संख्या में भी आई कमी

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • 865 New Cases Came In 24 Hours; New Cases Less Than 1000 For The Second Consecutive Day, The Number Of Dead Also Decreased

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिमलाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
तस्वीर शिमला की है जहां वैक्सीन लगाने के लिए लोग लाइन में लगे हैं। - Dainik Bhaskar

तस्वीर शिमला की है जहां वैक्सीन लगाने के लिए लोग लाइन में लगे हैं।

  • कांगड़ा जिले में सबसे ज्यादा 218 नए मामले मिले तो मंडी में 113 केस
  • 19 मरीजों की मौत, 2167 मरीज ठीक

प्रदेश में कोरोना संक्रमण का कहर अब धीरे धीरे कम होने लगा है। सोमवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस के नए मामलों की संख्या एक हजार से कम रही है। वहीं, इस संक्रमण से मरीजों की मौत भी कम हुई है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से 19 मरीजों की मौत हुई है। कांगड़ा जिले में 8, शिमला में 4, सोलन में 3, बिलासपुर, हमीरपुर, मंडी व ऊना जिलों में एक-एक मरीज की मौत हुई है। प्रदेश में कोरोना वायरस से अब तक कुल 3127 मरीजों की मौत हो चुकी है।

इस दौरान 865 नए मामले पाजिटिव आए हैं। कांगड़ा जिले में 218, मंडी में 113, ऊना में 99, सिरमौर में 87, हमीरपुर में 75, शिमला में 64, बिलासपुर में 52, चंबा में 49, किन्नौर व कुल्लू में 41-41, सोलन में 20 और लाहौल-स्पीति जिले में 6 मामले कोरोना पाजिटिव आए हैं।

प्रदेश में कोरोना वायरस के कुल 190330 मामले पाजिटिव आए हैं। इनमें से अब तक 173560 मरीज स्वस्थ हुए हैं। सोमवार को 2167 मरीज ठीक हुए हैं और राज्य में कोरोना वायरस के 13621 एक्टिव केस हैं। प्रदेश में काेराेना का रिकवरी रेट बढ़ कर 91.18 प्रतिशत पहुंच गया है।

कोरोना पर पूरा नियंत्रण आने पर ही हटेंगी सभी पाबंदियां

मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना संक्रमण पर पूरा नियंत्रण आने के बाद ही प्रदेश से सभी पाबंदियों को हटाया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से कुछ रियायतें दी गई है, जिस पर पूरी निगरानी रखी जा रही है। सीएम ने कहा िक राज्य में कुछ समय की अवधि के भीतर एक्टिव केस 40 हजार से घटकर 14 हजार तक पहुंच गए हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से लगाई गई पाबंदियों का असर देखने को मिला है। प्रदेश वैक्सीन की सबसे कम बर्बादी करने वाले राज्यों में शामिल है। 18 से 44 आयुवर्ग के लिए वैक्सीन अधिक मात्रा में उपलब्ध होने पर टीकाकरण अभियान में तेजी लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: