सिंगल फैमिली ऑफिस दोगुने: भारत, चीन, मलेशिया और इंडोनेशिया के सुपर रिच के लिए सिंगापुर बना सुरक्षित आशियाना, एयर ट्रैफिक बंद तो प्राइवेट जेट से पहुंच रहे

[ad_1]

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक घंटा पहलेलेखक: डेविड रामिल/लुलु चेन

  • कॉपी लिंक
प्रीमियम सेगमेंट की गाड़ियों की बिक्री में 60% बढ़ोतरी। - Dainik Bhaskar

प्रीमियम सेगमेंट की गाड़ियों की बिक्री में 60% बढ़ोतरी।

जब सिंगापुर के कार डीलर कीथ ओ ने फेसबुक पर मैसेज देखा कि चीन के एक शख्स ने 4.65 करोड़ रुपए की बेंटले कार ऑर्डर की है, तो उन्हें भरोसा नहीं हुआ। उस शख्स ने सिर्फ दाम और डिलीवरी के बारे में पूछा। किथ कहते हैं कि हमारे लिए यह लाखों डॉलर की बात थी, पर उनके लिए कुछ भी नहीं।

सिंगापुर के लिए इस तरह की डील बिल्कुल नया ट्रेंड है। सालभर में विदेशी ग्राहकों में प्रीमियम सेगमेंट की गाड़ियों की बिक्री 60% तक बढ़ गई है। 2021 के पहले चार महीनों में बेंटले, रॉल्स रॉयस और मर्सिडीज की 1300 गाड़ियां बिक गईं। 57 लाख की आबादी वाले क्षेत्र में यह आंकड़ा चौंकाने वाला है।

खरीदारों में बड़ी संख्या चीन, भारत, इंडोनेशिया और मलेशिया के सुपर रिच की है। इसके अलावा सेलेटर एयरपोर्ट पर हैंगर स्पेस की मांग जबर्दस्त तरीके से बढ़ी। एक निजी जेट के पायलट ने कहा कि एयर ट्रैफिक पर सख्ती है तो लोग निजी जेट से पहुंच रहे हैं। अगले हफ्ते कमर्शियल उड़ानें शुरू होंगी तो आसानी होगी।

कोरोना ने दक्षिण-पूर्व एशिया पर असर डाला है। हांगकांग में राजनीतिक उथल-पुथल है। इसी के चलते सिंगापुर अमीरों और उनके परिवारों के लिए सुरक्षित आशियाना बन गया है। यहां की प्राइवेट वेल्थ मैनेजमेंट फर्म यूनियन बैंकेयर प्रिवी के स्टीफन रेपको के मुताबिक सालभर में कई विदेशी ग्राहक सिंगापुर में बस गए, कई कतार में हैं। इस दौरान सिंगल फैमिली ऑफिसों की संख्या दोगुनी बढ़कर 400 हो गई है।

गूगल के सर्गेई ब्रिन और चीन के हेडिलाओ के शू पिंग ने भी फर्म शुरू की है। प्रॉपर्टी के दाम 2018 के बाद सर्वाधिक हैं। यूबीएस जैसे वैश्विक बैंक विस्तार कर रहे हैं। स्माइल ग्रुप के फाउंडर हरीश बहल बताते हैं कि सालभर में भारत, अमेरिका समेत दुनिया के अरबपति सिंगापुर आए। कई ने पैरेंट्स को कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए यहां रोका है।

कोरोना के केस कम, ज्यादा वैक्सीन; सस्ते लोन जैसी रियायतें लुभा रहीं

इकोनॉमिक डेवलपमेंट बोर्ड के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट मैथ्यू ली बताते हैं कि आसान एयर ट्रैवल, पैरेंट्स के लिए लंबी अवधि का परमिट, सस्ता बिजनेस लोन और कम स्टांप शुल्क अमीरों को लुभा रहा है। आपके पास 500 करोड़ रु. की संपत्ति है। कारोबार में 14 करोड़ निवेश करते हैं तो तुरंत नागरिकता मिल जाती है। यहां कोरोना के केस काफी कम हैं। 30% आबादी को वैक्सीन लग चुकी है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: