JDU विधायक के गांव में टीका देने आए स्वास्थ्यकर्मियों को भगाया, कहा- टीका लेने से बीमार पड़ रहे लोग


नवगछिया के दियारा इलाकों में कोरोना टीका को लेकर अब भी अंधविश्वास फैला हुआ है। कदवा दियारा के बाद मंगलवार को जदयू विधायक गोपाल मंडल के गांव छोटी परबत्ता में  भी लोगों ने टीके का विरोध कर स्वस्थ्यकर्मियों सहित बीडीओ और पीएचसी प्रभारी को भगा दिया। इस दौरन ग्रामीणों ने अपशब्द भी कहे।  

जानकारी के अनुसार, मंगलवार को इस्माइलपुर  प्रखंड के छोटी परबत्ता गांव में  टीका लगाने  पहुंचे स्वास्थ्य विभाग की टीम स्थानीय लोगों ने जमकर विरोध किया। इसके बाद स्वास्थ्यकर्मियों से टीका नहीं लेने की बात कही। इस पर  प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी अनिल कुमार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रंजन कुमार, बाल विकास परियोजना के पर्यवेक्षक  पल्लवी कुमारी, शिक्षक विनोद मंडल, आशा कार्यकर्ता किरण कुमारी, आंगनवाड़ी सेविका पिंकी देवी सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की, लेकिन कोई भी मानने को तैयार नहीं हुआ। 

प्रखंड विकास पदाधिकारी अनिल कुमार ने बताया कि हमलोगों ने टीकाकरण के महत्व के बारे में लोगों को बताया, लेकिन कोई टीका लगवाने को तैयार नहीं हुआ। इस्माइलपुर के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि स्थानीय एवं सामाजिक स्तर से भी हमलोगों ने काफी प्रयास किया। यहां पर एक से आठ वार्ड तक के लोगों को टीका लगवाने को लेकर के कई तरह की बातें समझाई  गईं, लेकिन लोगों ने  टीका लगाने से साफ इंकार कर दिया।  थानाध्यक्ष मनी पासवान ने भी टीका को लेकर लोगों को समझाने की कोशिश की, लेकिन लोग तैयार नहीं हुए।

गांववाले बोले, टीका लेने से बीमार पड़ रहे लोग
वहीं गांव के लोगों का कहना था कि यह टीका कई लोगों ने लगवाया। टीका लगवाने के बाद लोगों को बुखार समेत कई तरह की परेशानी हुई। इस वजह से हमलोग परेशान हैं। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि टीका लेने के बाद कई तरह की बीमारी हो जाती है तो हम क्यों लगवाएं टीका। वहीं महिलाओं ने टीका लेने से बांझ होने का अंदेश जताते हुए टीका नहीं लगवाने की बात कही।

गांव में अधिकांश लोग किसान और मजदूर हैं। तूफान आने की जानकारी मिलने के बाद अधिकांश लोग मक्का बचाने के लिए बहियार चले गये थे। कुछ लोग गांव में थे। गांव वालों को लगा कि स्वास्थ्य विभाग की टीम जबरदस्ती टीका लगाने आयी है तो केवल बकवास हुआ है और किसी तरह की घटना नहीं हुई है। घटना की जानकारी मिलने के बाद ग्रामीणों को जाकर टीका के बारे में समझा दिया है। किसी तरह का विवाद नहीं है। बुधवार को टीम को बुलाकर टीका दिलवाया जाएगा। सभी ग्रामीणों को टीका लेने को कहा गया है।
– नरेन्द्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल, विधायक, गोपालपुर

टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम को बुधवार को छोटी परबत्ता भेजा जाएगा। अगर ग्रामीणों में टीकाकरण को लेकर कोई गलतफहमी है तो उसे दूर किया जाएगा। टीकाकरण से किसी तरह का नुकसान नहीं होता है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीका लगाया  जा रहा है। ग्रामीणों को इसके बारे में बताते हुए टीका लगवाया जाएगा। छोटी परबत्ता में टीका लगाने गयी टीम को भगाने की घटना की जानकारी नहीं मिली है। स्थानीय अधिकारियों से जानकारी लेकर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
– सुब्रत कुमार सेन,डीएम,भागलपुर



Source link

Leave a Reply

%d bloggers like this: