5 करोड़ में नीलाम हुआ दो भाइयों का 55 सेकेंड का ये वीडियो, जानिए आखिर ऐसा क्या है?


YouTube पर पोस्ट किया गया ये वीडियो लगभग 883 मिलियन बार देखा गया है, जो सर्वाधिक देखे जाने वाले वीडियो में से एक है. (videograb)

इस वीडियो का नाम ‘चार्ली बिट माई फिंगर’ (Charlie Bit My Finger) है, जिसे यूएस (अमेरिका) में फिल्माया गया है. यूएस में रहने वाले एक आईटी कंपनी के मैनेजर हॉवर्ड डेविस-कैर ने इस वीडियो को मई 2007 में YouTube पर अपलोड किया था. इस वीडियो में दिख रहे दोनों बच्चे हैरी (3 साल) और चार्ली की उम्र (1 साल) थी.

वॉशिंगटन. इंटरनेट पर कब कौन सी चीज़ चर्चित हो जाए, इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता. यू-ट्यूब (YouTube) पर 14 साल पहले 55 सेकंड के एक वीडियो ने ऐसी धूम मचाई कि पूरे परिवार की ही किस्मत बदल गई है. दो मासूम बच्चों का मजेदार वीडियो इस कदर लोगों को पसंद आ रहा है कि इसकी लोकप्रियता हर दिन बढ़ती जा रही है. ऐसे में अब इस वीडियो को NFT(अपूरणीय टोकन) के रूप में नीलाम भी किया गया है, जिसकी अंतिम बोली 5 करोड़ रुपये लगी है. इस वीडियो का नाम ‘चार्ली बिट माई फिंगर’ है, जिसे यूएस (अमेरिका) में फिल्माया गया है. यूएस में रहने वाले एक आईटी कंपनी के मैनेजर हॉवर्ड डेविस-कैर ने इस वीडियो को मई 2007 में YouTube पर अपलोड किया था. इस वीडियो में दिख रहे दोनों बच्चे हैरी (3 साल) और चार्ली की उम्र (1 साल) थी. वीडियो में हैरी और चार्ली एक साथ कुर्सी पर बैठे हुए थे. उस समय चार्ली ने हैरी की उंगली काट ली थी. देखें VIDEO- 

Youtube Video

हॉवर्ड ने बताया कि जिस समय इस वीडियो को यू-ट्यूब पर अपलोड किया था, तो उनका मानना था कि ये थोड़ा मजाकिया है, उससे ज्यादा कुछ नहीं. लेकिन कुछ महीने बाद जब वीडियो को वे हटाने गए, तो उन्होंने पाया कि इसे हजारों बार देखा जा चुका है. YouTube पर पोस्ट किया गया ये वीडियो लगभग 883 मिलियन बार देखा गया है, जो सर्वाधिक देखे जाने वाले वीडियो में से एक है. इस वीडियो ने जहां भाइयों को इंटरनेट जगत में हीरो बना दिया, तो वहीं परिवार को भी मोटी कमाई मिलने लगी. इस वीडियो को कई विज्ञापन मिले, जिनसे कथित तौर पर बीते वर्षों में लाखों की कमाई भी हुई. इंटरनेट पर वायरल हो गया मोनिका लेविंस्की का ये इमोजी वाला रिप्लाई, सवाल था लाजवाब
इस वीडियो में दिखने वाले बच्चे अब बड़े हो गए हैं. हैरी 6 फीट लंबा हो चुका है, जो ए-लेवल का छात्र है. 15 वर्षीय चार्ली भी पढ़ाई कर रहा है. इस वीडियो की जानकारी साझा करते हुए हॉवर्ड ने बताया कि जब इस वीडियो को बनाया गया था, तो इस वीडियो को बच्चों को दादा-दादी को भेजना था. हॉवर्ड ने बताया कि ईमेल पर भेजने के लिए इस वीडियो का साइज बड़ा था, जिसके चलते इस वीडियो को एक निजी YouTube खाते में अपलोड कर दिया. इस वीडियो को और भी आसानी से एक्सेस करने में मदद करने के लिए सार्वजनिक कर दिया था. (फोटो- Howard Davies-Carr)









Source link

Leave a Reply

%d bloggers like this: