माली में राजनीतिक उठापटक: सेना ने अंतरिम सरकार के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को गिरफ्तार किया; राजधानी के पास काटी आर्मी कैंप ले गए

[ad_1]

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बमाको34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
तस्वीर पिछले साल अगस्त की है। तब सैन्य तख्तापलट के बाद राष्ट्रपति इब्राहिम बाउबकर कीता को अपदस्थ कर दिया था। इसके बाद अंतरिम सरकार का गठन किया गया था। - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

तस्वीर पिछले साल अगस्त की है। तब सैन्य तख्तापलट के बाद राष्ट्रपति इब्राहिम बाउबकर कीता को अपदस्थ कर दिया था। इसके बाद अंतरिम सरकार का गठन किया गया था। – फाइल फोटो

पश्चिमी अफ्रीकी देश माली में राजनीतिक अस्थिरता की खबर सामने आई है। यहां के राष्ट्रपति बीए नदौ, प्रधानमंत्री मोक्टर औअने और रक्षामंत्री सुलेमान डौकौरे को सेना ने गिरफ्तार किया है। इससे पहले जानकारी आई थी कि सोमवार को 25 नए मंत्रियों के साथ नई सरकार का गठन हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सभी को गिरफ्तार कर राजधानी के पास काटी स्थित आर्मी कैंप ले जाया गया। प्रधानमंत्री औअने का कहना है कि अंतरिम उपराष्ट्रपति कर्नल असिमी गोइता की सुरक्षा में तैनात सेना के जवान उन्हें लेने आए थे। असिमी पिछली बार सैन्य तख्तापलट करने वाली फौज के लीडर थे। ये गिरफ्तारी सोमवार को सरकार के फेरबदल की बाद की गई है।

राष्ट्रपति के गार्ड ने सुरक्षा करने से इंकार किया
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राष्ट्रपति के गार्ड ने उनकी सुरक्षा करने से इनकार कर दिया था। इसके बाद सेना उन्हें लेकर चली गई। वहीं, अंतरिम सरकार में सेना के लोगों की मुख्य भूमिका थी। इसका गठन पिछले साल अगस्त को किया गया था। इधर, सेना पर सरकारी कामकाज में हस्तक्षेप के आरोप लगते रहे हैं।

अंतरिम सरकार ने 18 महीने में चुनाव कराने का वादा किया था
दरअसल, सेना के अधिकारियों ने पिछले साल अगस्त में भ्रष्टाचार और देश के उत्तरी इलाके में सशस्त्र विद्रोह से निपटने के लिए कीता सरकार को अपदस्थ कर दिया था। तब अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों के बाद भी अंतरिम सरकार का गठन किया। ये सरकार संविधान सुधार के पक्ष में थी। इसके तहत 18 महीने में चुनाव कराने का वादा किया गया था। इससे पहले मई में वहां की अदालत ने संसदीय चुनावों के नतीजों को पलट दिया था। 2012 में भी सेना तख्तापलट कर चुकी है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *