छठ पूजा से नहीं फैलेगा कोरोना संक्रमण: बीजेपी सांसद मनोज तिवारी का दावा

मुख्यमंत्री आवास के सामने बीजेपी सांसद का स्टंट
   नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के सामने प्रदर्शन कर रहे बीजेपी सांसद मनोज तिवारी हाथापाई के दौरान घायल हो गए।उसे इलाज के लिए सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। करोना की पृष्ठभूमि में दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने छठ पूजा पर प्रतिबंध लगाने के फैसले की घोषणा की थी। इसके बाद मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री आवास के सामने आंदोलन शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारियों में दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता भी शामिल थे।

तिवारी के नेतृत्व में भाजपा नेताओं का एक समूह मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास के बाहर जमा हुआ। इस बीच दिल्ली पुलिस ने मुख्यमंत्री आवास के बाहर चारों तरफ बैरिकेड्स लगा दिए थे।

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी अस्पताल में भर्ती
इसी बीच मनोज तिवारी बैरिकेड्स पर चढ़ गए और सीमा पार करने की कोशिश की। दंगा गियर में पुलिस ने शुक्रवार को एक रैली में सैकड़ों प्रदर्शनकारियों को ट्रक से हटा दिया। इससे मनोज तिवारी बैरिकेड्स से नीचे गिर गए। इस बार वह बेहोश होकर गिर पडे और घायल हो गये। भाजपा नेता नीलकंठ बख्शी ने बताया कि घायल मनोज तिवारी को इलाज के लिए सफदरजंग अस्पताल के आपातकालीन विभाग में भर्ती कराया गया है।
राजधानी दिल्ली में सार्वजनिक स्थलों पर छठ पूजा पर रोक
 मनोज तिवारी ने छठ पूजा पर से प्रतिबंध हटाने की मांग करते हुए लोगों के समर्थन में पिछले सप्ताह से 'छत्रयात्रा' शुरू की है। दिल्ली में आप सरकार को सार्वजनिक स्थानों पर छटपूजा समारोह की अनुमति देनी चाहिए। इसके लिए सख्त प्रोटोकॉल का पालन किया जा सकता है। लेकिन, सीधे प्रतिबंध गलत है।  मनोज तिवारी का कहना है कि यह लोगों की भावनाओं से जुड़ा मसला है।

विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना किसी व्यक्ति के शरीर में आंख, नाक और मुंह के जरिए प्रवेश कर सकता है। छठ पूजा में भक्त घुटनों तक ही पानी में प्रवेश करते हैं। इसलिए नदी किनारे या झीलों में छठ पूजा करने से कोरोना संक्रमण फैलने का कोई खतरा नहीं है, मनोज तिवारी ने दावा किया।

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: