प्रधानमंत्री का जम्मू-कश्मीर के तेज विकास के लिए समावेशी विकास के रोडमैप का विचार – मुरुगन

प्रधानमंत्री का जम्मू-कश्मीर के तेज विकास के लिए समावेशी विकास के रोडमैप का विचार – मुरुगन
  नई दिल्ली ,11 OCT 2021,PIB Delhi - केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी राज्य मंत्री डॉ. एल मुरुगन ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के समावेशी विकास तथा सुशासन के विचार और जम्मू-कश्मीर प्रशासन द्वारा अपनाए गए दृष्टिकोण की मदद से केंद्र शासित क्षेत्र व्यापक विकास के रास्ते पर आ गया है।

अपने संबोधन में डॉ. मुरुगन ने आकाशवाणी श्रीनगर और दूरदर्शन केंद्र श्रीनगर द्वारा निभाई गई भूमिका की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि ये दोनों संस्थान पिछले कई दशकों से कई भाषाओं में गुणवत्तापूर्ण कार्यक्रम बना रहे हैं। उन्होंने 2014 की विनाशकारी बाढ़ और कोविड-19 महामारी के दौरान आकाशवाणी श्रीनगर और दूरदर्शन केंद्र श्रीनगर दोनों द्वारा निभाई गई भूमिका का विशेष उल्लेख किया। सीमावर्ती क्षेत्र में तैनात होने के कारण, आकाशवाणी श्रीनगर और दूरदर्शन केंद्र श्रीनगर शत्रुतापूर्ण पड़ोसी देशों द्वारा फैलाए जा रहे दुष्प्रचार एवं अप्रिय वक्तव्यों का मुकाबला करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। इससे पहले आकाशवाणी और दूरदर्शन, उत्तर क्षेत्र के अतिरिक्त महानिदेशक एम एस अंसारी ने स्वागत भाषण दिया और आकाशवाणी (परियोजनाएं) के उप महानिदेशक आदित्य चतुर्वेदी ने धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया।

बाद में मंत्री महोदय ने ट्राउट कल्चर फार्म लारीबल दाचीगाम का दौरा किया। मंत्री ने फार्म में उपलब्ध मत्स्य पालन इकाइयों, मशीनरी और अन्य सुविधाओं का निरीक्षण किया तथा मत्स्य पालन करने वाले किसानों से बातचीत की। उन्होंने लाभार्थियों को प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PMMSY) के तहत ट्राउट इकाई सौंपी।

मंत्री महोदय ने किसानों के साथ बातचीत के दौरान कहा कि भारत सरकार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए प्रतिबद्ध है और प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कई पहल की गयी हैं।उन्होंने युवाओं से आगे आकर राष्ट्र निर्माण का हिस्सा बनने की अपील की। उन्होंने कहा कि ट्राउट मछली का पालन आय का एक महत्वपूर्ण स्रोत बनकर उभरा है और लोगों को इसका हर संभव लाभ उठाना चाहिए।

मंत्री महोदय को अवगत कराया गया कि मत्स्य विभाग सभी जिलों में हैचरी स्थापित कर किसानों को फिंगरलिंग फिश की आपूर्ति कर रहा है। मंत्री महोदय को यह भी जानकारी दी गयी कि ट्राउट की बाजार में उपलब्धता बढ़ाने के लिए विभिन्न स्थानों पर बिक्री केंद्र स्थापित किए गए हैं।

   डॉ.मुरुगन ने आकाशवाणी श्रीनगर के अपने दौरे के अवसर पर कहा, जहां उन्होंने पुनर्निर्मित प्रसार भारती सभागार का उद्घाटन किया। वह सभागार वर्ष 2014 में आई विनाशकारी बाढ़ से क्षतिग्रस्त हो गया था।

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: