एक चिंता ये भी: प्रदेश में 291 आईसीयू बेड में से 228 ऑक्यूपाइड; 63 आईसीयू बेड खाली हैं और 2525 ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड हैं

[ad_1]

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिमला41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

काेराेना संक्रमण के बढ़ते मरीजों के चलते अब बिस्तराें की आवश्यकता महसूस हाेने लगी है। प्रदेश में इस समय 291 आईसीयू बेड हैं, इनमें से 228 ऑक्यूपाइड है। 63 आईसीयू बेड खाली हैं। 2525 ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड हैं, इनमें से 1992 बेड ऑक्यूपाइड हैं। स्टैंडर्ड बेड 1037 हैं, 161 बेड पर मरीज उपचाराधीन हैं। 876 बेड खाली हैं।

आइजीएमसी की अगर बात करें ताे यहां पर 38 आईसीयू के बेड हैं और सभी ऑक्यूपाइड हैं। ऑक्सीजन सपोर्टेड 242 बेड में से 194 बेड पर मरीजों का उपचार चल रहा है। 48 खाली है। इसी तरह यहां के डीडीयू अस्पताल में 135 ऑक्सीजनयुक्त बेड है, इसमें से 123 ऑक्यूपाइड है 12 खाली चल रहे हैं। यहां पर आईसीयू बेड नहीं है। टांडा मेडिकल काॅलेज की बात करें ताे यहां पर 60 आईसीयू बेड हैं जाे सभी ऑक्यूपाइड है।

ऑक्सीजन सपोर्टेड 101 बेड में से 72 पर मरीज उपचाराधीन हैं, 29 खाली हैं। यहां पर कुल 189 बेड में 132 पर मरीज हैं, 57 खाली हैं। मंडी के नेरचाैक मेडिकल काॅलेज में 50 आईसीयू बेेड है जाे सभी ऑक्यूपाइड है। यहां पर ऑक्सीजन स्पाेर्टिड 168 बेड में से 103 खाली है।

राधा स्वामी सत्संग ब्यास मंडी में ऑक्सीजन सपोर्टेड 40 बेड में से 11 बेड खाली है। प्रदेश के दूसरे अन्य अस्पतालों में भी आईसीयू बेड की ऑक्यूपेंसी कम ही चल रही है। सरकार ने काेविड मरीजों के लिए प्रदेश में डेडिकेटेड अस्पतालों की व्यवस्था ताे कर दी लेकिन 52 डेडिकेटेड अस्पतालों के पास महज 45.41% बेड खाली हैं।

हर दिन 50 से ज्यादा लाेग काेराेना से ताेड़ रहे हैं दम

प्रदेश में हर दिन 50 से ज्यादा लाेग काेराेना संक्रमण से दम ताेड़ रहे हैं। हालांकि वे दूसरी अन्य बीमारियाें से भी ग्रसित बताए जा रहे हैं। पिछले 20 दिनाें के भीतर 1000 से ज्यादा काेराेना संक्रमित मरीजों ने इस बीमारी से जूझते हुए दम ताेड़ा है। ऐसे में प्रदेश में आईसीयू बेड की ज्यादा आवश्यकता महसूस की जाने लगी है ताकि लाेगाें काे और बेहतर ईलाज की सुविधा मिल सके।

आईजीएमसी में आया ब्लैक फंगस का संदिग्ध मरीज, साेलन के व्यक्ति में लक्षण

आईजीएमसी में रविवार काे एक ओर ब्लैक फंगस का संदिग्ध मरीज आया है। साेलन के एक ओर व्यक्ति में ब्लैक फंगस के लक्षण मिले हैं। आईजीएमसी में चार दिनाें में यह तीसरा मामला है। इससे पहले शनिवार काे अर्की साेलन की महिला पाॅजिटिव पाई गई थी।

जबकि वीरवार काे अस्पताल में पहला मामला हमीरपुर से पोस्ट कोविड महिला पॉजिटिव पाई गई थी। जिसे आईजीएमसी अस्पताल में ही भर्ती किया गया है। महिला का ऑपरेशन होना है, जो शुगर लेवल सही पाए जाने के बाद सोमवार को किया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: