होम आइसोलेशन किट का शुभारंभ: राज्य गंभीर परिस्थिति से गुजर रहा, रोगियों को चिह्नित करने वाली पंचायतें होंगी सम्मानित

[ad_1]

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिमला2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
सीएम ने शिमला से होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड के रोगियों के लिए होम आइसोलेशन किट का शुभारंभ भी िकया। उन्होंने कहा िक इससे न केवल मामलों का शीघ्र पता लग सकेगा बल्कि वायरस के फैलने पर भी रोक लगेगी। प्रदेश के विभिन्न भागों के लिए होम आइसोलेशन किट के 11 वाहनों को झण्डी दिखा रवाना किया। - Dainik Bhaskar

सीएम ने शिमला से होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड के रोगियों के लिए होम आइसोलेशन किट का शुभारंभ भी िकया। उन्होंने कहा िक इससे न केवल मामलों का शीघ्र पता लग सकेगा बल्कि वायरस के फैलने पर भी रोक लगेगी। प्रदेश के विभिन्न भागों के लिए होम आइसोलेशन किट के 11 वाहनों को झण्डी दिखा रवाना किया।

  • सीएम बोले-कोरोना की दूसरी लहर अधिक घातक, संक्रमण दर 5.53% से बढ़ 15.67% हुई
  • हिमाचल कोविड केयर एप्लीकेशन व ई-संजीवनी ओपीडी की भी शुरूआत

प्रदेश काेराेना महामारी के कारण गंभीर परिस्थिति से गुजर रहा है। दूसरी लहर पहले के मुकाबले ज्यादा घातक है। प्रदेश में काेराेना की पाॅजिटिविटी दर 5.53 प्रतिशत से बढ़कर 15.67% हो गई है। यह बातें मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहीं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में जुकाम जैसे लक्षणों वाले रोगियों को चिन्हित करने के लिए यह विशेष अभियान शुरू करेगी ताकि उनकी शीघ्र जांच की जा सके। इस अभियान के क्रियान्वयन में बेहतर प्रदर्शन करने वाली पंचायतों को सरकार सम्मानित भी करेगी।

उन्हाेंने ऑनलाइन परामर्श और उपचार के लिए बिलासपुर स्थित एम्स के साथ लोगों को जोड़ने के लिए हिमाचल कोविड केयर एप्लीकेशन और ई-संजीवनी ओपीडी की भी शुरूआत की। यह किट संबंधित विधायकों द्वारा होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड-19 के रोगियों को वितरित की जाएगी। ई-संजीवनी ओपीडी रोगियों और चिकित्सकों के मध्य प्रभावी संचार सुनिश्चित करेगी और उन्हें विशेषज्ञों से उचित सलाह लेने के लिए सक्षम बनाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए प्रदेश सरकार ने स्वास्थ्य संस्थानों में बिस्तर क्षमता को बढ़ाकर 5000 किया गया है जो पहले 1200 थी। ऑक्सीजन की भंडारण क्षमता 25 मीट्रिक टन तक बढ़ाई गई है।

मुख्यमंत्री ने कोरोना वाॅरियर का उनकी सेवाओं के लिए आभार भी व्यक्त किया। इस अवसर पर केन्द्रीय वित्त एवं काॅरपोरेट मामले राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इस वर्ष के अंत तक देशवासियों के लिए 216 करोड़ वैक्सीन वायल उपलब्ध करवा दी जाएंगी।

किट में ये चीजें शामिल

किट में होम आइसोलेशन में रहे रहे रोगियों के लिए निर्देशिका, थर्मामीटर, च्यवनप्राश, काढ़ा, सेनिटाइजर, मास्क, मल्टीविटामिन, कैल्शियम, विटामिन-सी तथा जिंक की गोलियां, आयुर्वेदिक दवाई कुदनीर, मुख्यमंत्री का पत्र, शीघ्र स्वास्थ्य लाभ सन्देश का कार्ड और सभी वस्तुओं की सूची शामिल हैं।

5017 मरीज हुए ठीक, 2341 नए मामले आए

प्रदेश में काेराेना की दूसरी लहर अब धीरे धीरे कमजाेर पड़ने लगी है। शुक्रवार काे 5017 मरीज काेराेना संक्रमण से ठीक हुए हैं। वहीं 2341 नए मरीज काेराेना पाॅजिटिव पाए गए हैं, चिंताजनक ये है कि मौतों में कमी नहीं आ रही। पिछले 24 घंटे के दौरान प्रदेश में 55 मरीजों की मौत हुई है। कांगड़ा जिले में 17, हमीरपुर में 9, सोलन में 7 व मंडी जिले में 6 मरीजों की मौत हुई है। वहीं, शिमला व ऊना जिलों में 4-4, चंबा व सिरमौर में 3-3 और कुल्लू जिले में दो मरीजों ने कोरोना वायरस से जूझते हुए दम तोड़ दिया। शनिवार काे कांगड़ा जिले में 698, मंडी में 318, शिमला में 224, बिलासपुर में 192, ऊना में 182, सोलन में 174, हमीरपुर में 139, सिरमौर में 137, चंबा में 136, कुल्लू में 80, किन्नौर में 49 और लाहौल-स्पीति में 12 मामले मिले हैं।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *