कोरोना लॉकडाउन के बीच हत्या: ऊना में पीट-पीटकर प्रवासी मजदूर को मौत के घाट उतारा; बिहार निवासी दो सगे भाइयों पर आरोप, दोनों गिरफ्तार

[ad_1]

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऊना10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
दोनों युवकों ने बीच बचाव करने वाले लोगों को भी धमकी दे दी थी। - Dainik Bhaskar

दोनों युवकों ने बीच बचाव करने वाले लोगों को भी धमकी दे दी थी।

हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के देहला गांव में कोरोना लॉकडाउन के बीच हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। एक प्रवासी मजदूर को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया गया। आरोप बिहार निवासी दो सगे भाइयों पर लगे हैं, जिन्हें गिरफ्तार करके पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

वारदात गत 20 मई को अंजाम दी गई थी। शनिवार सुबह मृतक ने PGI चंडीगढ़ में दम तोड़ा। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले में बनती आगे की कार्रवाई की। मृतक की पहचान बिहार के पूर्णिया जिले के गांव दुबशी निवासी बीरबल के रूप में हुई। मृतकों का नाम मृतक के ही गांव निवासी अजय और विजय कुमार है।

SHO सदर सर्बजीत सिंह ने बताया कि बीरबल देहला गांव में किराए के मकान में रहता था। इसी मकान में अजय और विजय भी किराए पर रहते थे। दोनों भाइयों ने देर रात बीरबल पर लाठी डंडों से हमला कर दिया। अन्य मजदूरों ने उसे छुड़ाने का प्रयास किया, लेकिन अजय और विजय ने धमकी दी कि बीच में आए तो बीरबल जैसा हाल होगा।

मारपीट करने के बाद अजय और विजय मौके से चले गए। बीरबल ने घटना की जानकारी अपने भाई निर्मल को दी, लेकिन वह रात में ही उसके पास नहीं पहुंच पाया। अगली सुबह वह आनन-फानन में मौके पर पहुंचा तो बीरबल बेहोशी की हालत में मिला। निर्मल उसे उठाकर ऊना के सिविल अस्पताल ले गया।

अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद डॉक्टरों से बीरबल को PGI रेफर कर दिया गया। जहां इलाज के दौरान बीरबल ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने आरोपी भाइयों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *