जो बाइडन का इजरायल को समर्थन, फिलीस्तीनियों के साथ द्वि-राष्ट्र समाधान की कही बात

[ad_1]

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (फाइल फोटो)

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (फाइल फोटो)

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) की यह टिप्पणी तब आई जब एक दिन पहले ही इजरायल और हमास (Israel-Hamas) के बीच मिस्र की मध्यस्थता में युद्धविराम की घोषणा के साथ 11 दिन से चला आ रहा संघर्ष समाप्त हुआ.

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने कहा है कि इजरायल की सुरक्षा के प्रति उनके प्रशासन की प्रतिबद्धता में कोई बदलाव नहीं हुआ है लेकिन उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि फिलिस्तीनियों के लिए एक अलग राष्ट्र बनाकर द्वि-राष्ट्र समाधान (Two Nation Solution) ही दोनों के बीच संघर्ष को समाप्त कर सकता है. बाइडन की यह टिप्पणी तब आई जब एक दिन पहले ही इजरायल और हमास के बीच मिस्र की मध्यस्थता में युद्धविराम की घोषणा के साथ 11 दिन से चला आ रहा संघर्ष समाप्त हुआ. बाइडन ने अमेरिका की यात्रा पर पहुंचे दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई इन के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मेरी प्रतिबद्धता में कोई बदलाव नहीं हुआ है, इजरायल की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्धता, कोई तर्क-वितर्क नहीं.’ उन्होंने कहा, ‘कोई बदलाव नहीं, कोई भी नहीं, लेकिन मैं आपको बताता हूं एक बदलाव हो सकता है. यह बदलाव कि हमें अब भी द्वि-राष्ट्र समाधान की जरूरत है. यही एकमात्र रास्ता है. मेरा मानना है कि हम अब आगे बढ़ सकते हैं, मेरा पहले भी यही मानना था, संघर्षविराम पर बातचीत से पहले ही.’ बाइडन ने कहा कि उनका प्रशासन सुनिश्चित करेगा कि अमेरिका वेस्ट बैंक में सुरक्षा उपलब्ध कराता रहे. उन्होंने कहा, ‘हमने वेस्ट बैंक के लोगों के लिए सुरक्षा प्रतिबद्धता के साथ-साथ आर्थिक प्रतिबद्धता को भी नए सिरे से तैयार किया है.’ बाइडन ने कहा कि इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के साथ अपनी बातचीत में उन्होंने इजरायल को संकेत दिया कि उसके लिए यरूशलम में सांप्रदायिक लड़ाई को रोकना बहुत जरूरी है. ये भी पढ़ें: 11 दिन की खूनी जंग के बाद इजरायल-हमास के बीच संघर्ष विराम का ऐलानउन्होंने कहा, ‘इसे समाप्त होना चाहिए. मैं दूसरे राष्ट्रों के साथ मिलकर एक बड़ा पैकेज तैयार करने का प्रयास कर रहा हूं जो हमास को अपनी हथियार प्रणाली का पुनर्निर्माण का मौका दिए बिना गाजा के पुनर्निर्माण के लिए वहां घरों का फिर से निर्माण करने के लिए हमारे नजरिये को साझा करता है.’ उनकी डेमोक्रेटिक पार्टी के कई सांसदों के रुख में बदलाव पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में बाइडन ने कहा कि उनकी पार्टी अब भी इजरायल का समर्थन करती है.







[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: