तेजस्वी की नीतीश से मांग, पंचायत प्रतिनिधियों का कार्यकाल बढ़ाने पर विचार करे सरकार

[ad_1]

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कारण देश में नए ममालों में लगातार वृद्धि हो रही है। इससे बिहार भी अछूता नहीं है, यहां वायरस ने काफी कहर बरपाया है। ऐसे में नेता प्रतिपक्ष और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कोरोना की वजह से पंचायत चुनाव स्थगित होने की वजह से सरकार से आगामी चुनाव तक पंचायती प्रतिनिधियों के कार्यकाल को बढ़ाने की मांग की है।

आरजेडी नेता ने ट्वीट कर कहा, ‘सरकार से मांग है कि कोरोना महामारी के आलोक में पंचायत चुनाव स्थगित होने के कारण आगामी चुनाव तक त्रिस्तरीय पंचायती प्रतिनिधियों का वैकल्पिक तौर पर कार्यकाल विस्तारित किया जाए जिससे की पंचायत स्तर पर कोरोना प्रबंधन के साथ-साथ विकास कार्यों का बेहतर समन्वय के साथ क्रियान्वयन हो सके।’

नेता प्रतिपक्ष ने सरकार से कहा है कि यदि पंचायत प्रतिनिधियों की जगह प्रशासनिक अधिकारी पंचायतों का जिम्मा संभालेंगे तो यह भ्रष्टाचार और तानाशाही बढ़ाएगा। उन्होंने कहा, ‘पंचायत लोकतंत्र की बुनियादी इकाई है। अगर निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों की जगह प्रशासनिक अधिकारी पंचायतों का जिम्मा संभालेंगे तो यह भ्रष्टाचार व तानाशाही बढ़ाएगा। अब गांव स्तर पर भी सरकारी अफसर फाइल देखने लगेंगे तो गरीबों की सुनवाई नहीं होगी। लोकतंत्र के लिए चुने हुए लोग जरूरी हैं।’

बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से पंचायत चुनाव की तारीखों का अब तक ऐलान नहीं किया गया है। बिहार के पंचायत प्रतिनिधियों का कार्यकाल 15 जून को खत्म हो रहा है। माना जा रहा है कि पंचायती राज विभाग इस स्थिति में अध्यादेश ला सकता है।

संबंधित खबरें



[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: