16 फोटोज में देखिए ताऊ ते तूफान: समुद्र की लहरों के बीच खतरे में किनारों पर लाखों जिंदगियां; तेज हवाओं से तिनकों की तरह बिखरे पेड़ और खंभे

[ad_1]

  • Hindi News
  • National
  • Cyclone Tauktae Latest Photo Update; Massive Damage By Rain In Gujarat Maharashtra Kerala, Karnataka And Goa

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई/अहमदाबाद2 दिन पहले

गुजरात और महाराष्ट्र सहित 7 राज्यों में ताऊ ते तूफान ने तबाही मचाई हुई है। कई जगह 185 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल रही हैं। महाराष्ट्र, कर्नाटक और गुजरात के कई जिलों में भारी बारिश हो रही है तो गोवा में खंभे उखड़ने से पावर सप्लाई कट गई है। मुंबई की सड़कों पर जगह-जगह पानी भर गया है। ये तूफान कुछ घंटे बाद गुजरात के पोरबंदर तट से टकराने वाला है। इससे नुकसान का आंकड़ा और बढ़ सकता है। गुजरात में 23 साल बाद इतना बड़ा तूफान आ रहा है। फोटोज में देखिए तूफान किस तरह तबाही के निशान छोड़ रहा है।

1.

मंगलुरु में समुद्र की लहरें विकराल रूप लेती नजर आईं। लहरों की ऊंचाई और हवा की रफ्तार तूफान की खतरे को बयां कर रही थीं।

मंगलुरु में समुद्र की लहरें विकराल रूप लेती नजर आईं। लहरों की ऊंचाई और हवा की रफ्तार तूफान की खतरे को बयां कर रही थीं।

2.

कन्याकुमारी में भी ताऊ ते तूफान का असर देखा गया। यहां समुद्र की लहरें किनारे पर बने घरों तक पहुंचती नजर आईं।

कन्याकुमारी में भी ताऊ ते तूफान का असर देखा गया। यहां समुद्र की लहरें किनारे पर बने घरों तक पहुंचती नजर आईं।

3.

ताऊ ते के खतरे को देखते हुए मुंबई का बांद्रा-वर्ली सी लिंक दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है। मछुआरों को समुद्र में न जाने के लिए कहा गया है।

ताऊ ते के खतरे को देखते हुए मुंबई का बांद्रा-वर्ली सी लिंक दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है। मछुआरों को समुद्र में न जाने के लिए कहा गया है।

4.

मुंबई में तेज हवा की वजह से कई जगह पेड़ गिरे हैं। ऐसी ही एक घटना में यह कार पूरी तरह बर्बाद हो गई।

मुंबई में तेज हवा की वजह से कई जगह पेड़ गिरे हैं। ऐसी ही एक घटना में यह कार पूरी तरह बर्बाद हो गई।

5.

चक्रवात के असर से कोच्चि में भी भारी बारिश हुई। इस दौरान तेज हवा भी चली। समुद्र में कई फीट ऊंची लहरें उठीं।

चक्रवात के असर से कोच्चि में भी भारी बारिश हुई। इस दौरान तेज हवा भी चली। समुद्र में कई फीट ऊंची लहरें उठीं।

6.

तूफान की वजह से तिरुअनंतपुरम में ऊंची-ऊंची लहरें उठीं। किनारों पर बने मकानों को भारी नुकसान हुआ है।

तूफान की वजह से तिरुअनंतपुरम में ऊंची-ऊंची लहरें उठीं। किनारों पर बने मकानों को भारी नुकसान हुआ है।

7.

सबसे पहले तूफान गोवा के तटीय क्षेत्र से टकराया। गोवा में चक्रवाती तूफान से भारी नुकसान हुआ। सड़कों पर कई जगह पेड़ गिर गए।

सबसे पहले तूफान गोवा के तटीय क्षेत्र से टकराया। गोवा में चक्रवाती तूफान से भारी नुकसान हुआ। सड़कों पर कई जगह पेड़ गिर गए।

8.

गोवा के पंजिम में तेज हवा से कई पेड़ गिर गए। इससे वाहनों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ा। इसे हटाने में प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

गोवा के पंजिम में तेज हवा से कई पेड़ गिर गए। इससे वाहनों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ा। इसे हटाने में प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

9.

अलग-अलग राज्यों में अब तक तूफान से प्रभावित इलाकों में 8 लोगों की मौत हो गई है। महाराष्ट्र में भी मकानों को नुकसान पहुंचा है।

अलग-अलग राज्यों में अब तक तूफान से प्रभावित इलाकों में 8 लोगों की मौत हो गई है। महाराष्ट्र में भी मकानों को नुकसान पहुंचा है।

10.

मंगलुरु में मछुआरों को समुद्र न जाने की हिदायत दी गई है। ऐसे में वे किनारे पर तूफान थमने का इंतजार करते नजर आए।

मंगलुरु में मछुआरों को समुद्र न जाने की हिदायत दी गई है। ऐसे में वे किनारे पर तूफान थमने का इंतजार करते नजर आए।

11.

तूफान की वजह से पुरी में अलर्ट जारी किया गया था। इसके बाद लोग अपनी नावों को किनारे से दूर ले जाते नजर आए।

तूफान की वजह से पुरी में अलर्ट जारी किया गया था। इसके बाद लोग अपनी नावों को किनारे से दूर ले जाते नजर आए।

12.

गुजरात के कच्छ में तूफान से तबाही की आशंका को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है। तटीय इलाकों के मछुआरों को सुरक्षित जगह भेजा गया है।

गुजरात के कच्छ में तूफान से तबाही की आशंका को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है। तटीय इलाकों के मछुआरों को सुरक्षित जगह भेजा गया है।

13.

यह फोटो माउंट आबू की है। यहां भी चक्रवात का असर देखा गया। इस दौरान आसमान में घने बादल छाए रहे।

यह फोटो माउंट आबू की है। यहां भी चक्रवात का असर देखा गया। इस दौरान आसमान में घने बादल छाए रहे।

14.

बादलों के बीच पहाड़ियाें का नजारा काफी खूबसूरत नजर आया। हालांकि आसमान में घने बादल छाए हुए हैं।

बादलों के बीच पहाड़ियाें का नजारा काफी खूबसूरत नजर आया। हालांकि आसमान में घने बादल छाए हुए हैं।

15.

पश्चिमी राजस्थान के इलाकों में चक्रवात का असर अन्य राज्यों की तरह नहीं होगा। फिर भी यहां किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए अलर्ट जारी किया गया है।

पश्चिमी राजस्थान के इलाकों में चक्रवात का असर अन्य राज्यों की तरह नहीं होगा। फिर भी यहां किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए अलर्ट जारी किया गया है।

16.

माउंट आबू में बीच-बीच में धूप भी खिली। बादल और सूरज के बीच आंख मिचौली दिन भर चली।

माउंट आबू में बीच-बीच में धूप भी खिली। बादल और सूरज के बीच आंख मिचौली दिन भर चली।

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: