Aadhaar Card New Rule: बदल गए आधार बनवाने के नियम, UIDAI ने दी जानकारी; सभी पर पड़ेगा सीधा असर


नई दिल्ली: Aadhar Card New Rule: आधार कार्ड आज के समय में अनिवार्य दस्तावेज है. अब आधार से जुड़ी एक बड़ी खबर है. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार बनवाने की प्रक्रिया में बदलाव किया है. दरअसल, यूआईडीएआई ने जानकारी दी कि बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र या अस्पताल से डिस्चार्ज की स्लिप और माता-पिता में से किसी एक के आधार कार्ड से बच्चे के बाल आधार (Baal Aadhaar Card New Rule) के लिए आवेदन किया जा सकेगा. आइए जानते हैं इसकी पूरी प्रक्रिया.

बदल गए आधार कार्ड के नियम

आपको बता दें कि बाल आधार, आधार कार्ड का एक नीले रंग का वेरिएंट है, जो 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए जारी (Baal Aadhaar Card Benefits) किया जाता है. लेकिन अब नए नियम के तहत पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए किसी बायोमेट्रिक डिटेल की आवश्यकता नहीं होगी. 5 साल से कम आयु के बच्चों के लिए बायोमेट्रिक (फिंगरप्रिंट और आई स्कैन) की जरूरत को खत्म कर दिया गया है. वहीं, बच्चे की उम्र पांच साल की होने पर अनिवार्य रूप से बायोमेट्रिक अपडेट की आवश्यकता होगी.

ये भी पढ़ें- Driving License को लेकर बड़ी खबर! अब बिना टेस्ट दिए बन जाएगा DL, जानिए सरकार के नए नियम

जरूरी डॉक्यूमेंट्स

जरूरी दस्तावेजों में पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, नरेगा जॉब कार्ड आदि शामिल हैं. वहीं पते के प्रमाण के रूप में इस्तेमाल किए जा सकने वाले दस्तावेजों में पासपोर्ट, बैंक स्टेटमेंट / पासबुक, पोस्ट ऑफिस अकाउंट स्टेटमेंट, राशन कार्ड आदि शामिल हैं.

ऐसे बनवाएं बच्चे का बाल आधार 

1. बाल आधार बनवाने के लिए सबसे पहले यूआईडीएआई की वेबसाइट पर जाएं.
2. अब यहां आधार कार्ड रजिस्ट्रेशन का विकल्प चुनें.
3. अब इसमें जरूरी डिटेल, जैसे बच्चे का नाम और अन्य बायोमेट्रिक जानकारी भरें. 
4. अब आवासीय पता, इलाका, राज्य जैसी डेमोग्राफिक डिटेल दर्ज करें और सबमिट करें. 
5. आधार कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन निर्धारित करने के लिए ‘अपॉइंटमेंट’ विकल्प पर क्लिक करें.
6. करीबी एनरोलमेंट सेंटर चुनें, अपना अपॉइंटमेंट तय करें और आवंटित तिथि पर वहां जाएं.

ये भी पढ़ें- Post Office की ये सुपरहिट स्कीम्स कर रही हैं धन की वर्षा! चुटकी में हो रहे पैसे डबल, तुरंत उठाएं फायदा

एनरॉलमेंट सेंटर पर बनेगा आधार

एनरोलमेंट सेंटर पर पहचान का प्रमाण (POI), पते का प्रमाण (POA), रिश्ते का प्रमाण (POR) और जन्म तिथि (डीओबी) दस्तावेज जैसे जरूरी डॉक्यमेंट्स अपने साथ ले जाएं. केंद्र में मौजूद वहां के आधार अधिकारी से सभी दस्तावेजों की जांच कराएं. अगर आपका बच्चा पांच साल से ऊपर का है तो बायोमेट्रिक डाटा लिया जाएगा. लेकिन पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए बायोमेट्रिक डेटा की आवश्यकता नहीं होगी, केवल डेमोग्राफिक डेटा और चेहरे की पहचान की आवश्यकता होगी.

90 दिन में आ जाएगा बाल आधार

इस प्रक्रिया के बाद माता-पिता को उनके आवेदन के प्रोसेस को ट्रैक करने के लिए एक एकनोलेजमेंट नंबर मिलेगा. उसके बाद 60 दिनों के भीतर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक एसएमएस मिलेगा. बाल आधार कार्ड 90 दिनों के भीतर आपके पास पहुंच जाएगा.

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

LIVE TV





Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *