podcast : बिहार पंचायत चुनाव में 2 उम्मीदवारों को बराबर वोट मिले तो फैसला लॉटरी से| podcast : If 2 candidates get equal votes in Bihar Panchayat elections, then decision will be taken by lottery


नई दिल्ली. आप सुनना शुरू कर चुके हैं न्यूज18 हिंदी का पॉडकास्ट. स्वीकार करें मेरा नमस्कार. दोस्तो, कोरोना संक्रमण अब बेहद कमजोर पड़ चुका है और इसकी तीसरी लहर को लेकर आईआईटी कानपुर की स्टडी कह रही है कि उसके आने की आशंका बेहद कम है. आज दिल्ली में प्रधानमंत्री के साथ बिहार के 11 राजनीतिक पार्टियों के एक प्रतिनिधिमंडल की बैठक है. मुद्दा होगा जातीय जनगणना. बिहार में पंचायत चुनाव के नतीजे जरूरत पड़ने पर लॉटरी ड्रॉ के जरिए निकाले जाएंगे. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान व हिमाचल प्रदेश के पूर्व राजपाल का बुलंदशहर में अंतिम संस्कार होगा. इन खबरों के अलावा आज के पॉडकास्ट में मौसम की भी खबर होगी और अफगानिस्तान सहित जम्मू-कश्मीर और मध्य प्रदेश की खबरें होंगी. फिलहाल आज की पहली खबर.


पिछले करीब डेढ़ साल से कोरोना महामारी का दंश झेल रहे देशवासियों के लिए राहत भरी खबर है. कानपुर आईआईटी के वरिष्ठ वैज्ञानिक पद्मश्री प्रो मणींद्र अग्रवाल का दावा है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंका अब न के बराबर है. उन्होंने इसकी मुख्य वजह बड़ी संख्या में वैक्सीनेशन होना बताया है. प्रो अग्रवाल ने गणितीय सूत्र मॉडल के आधार पर यह दावा किया है. उनके मुताबिक संक्रमण की रफ्तार अब लगातार कम होगी. साथ ही साथ उनका यह भी दावा है कि अक्टूबर तक यूपी, बिहार, दिल्ली और मध्य प्रदेश जैसे राज्य संक्रमण से लगभग मुक्त हो जाएंगे. प्रोफेसर अग्रवाल ने अपनी स्टडी में दावा किया है कि अक्टूबर तक देश में कोरोना के एक्टिव केस 15 हजार के करीब रहेंगे. इसकी वजह तमिलनाडु, तेलंगाना, केरल, कर्नाटक, असम, अरुणाचल समेत पूर्वोत्तर के राज्यों में संक्रमण की मौजूदगी रहेगी. उन्होंने अपने रिपोर्ट में बताया है कि अक्टूबर तक तक उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली, मध्य प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस इकाई अंक तक पहुंच जाएंगे.

बिहार में जातीय जनगणना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत करने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दिल्ली पहुंच गए हैं. इस बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे. प्रतिनिधिमंडल में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के साथ-साथ राजनीतिक दलों के एक-एक प्रतिनिधि शामिल हैं. दिल्ली पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को कहा कि “हम जाति आधारित जनगणना की अपनी मांग के साथ सोमवार सुबह 11 बजे पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे,” दरअसल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जाति आधारित जनगणना को लेकर बिहार के राजनीतिक दलों के नेताओं को मिलने का समय दिया है.

उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान और हिमाचल के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह का अंतिम संस्कार सोमवार को बुलंदशहर के नरौरा स्थित बांसी घाट पर किया जाएगा. इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत केंद्र और प्रदेश सरकार के अनेक मंत्रियों, सांसदों, विधायकों के पहुंचने की संभावना है. नरोरा थाना क्षेत्र में हेलिकॉप्टर से आने वाले VVIP के लिए चार हेलिपैड भी बनाए गए हैं. कल्याण सिंह के देहावसान की खबर मिलने के बाद से ही प्रशासन के कई आलाधिकारी नरौरा में सुरक्षा के साथ-साथ अन्‍य व्यवस्थाएं करने में जुटे हैं.

बिहार में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मतदान प्रक्रिया संपन्न होने के बाद अगर एक पद के लिए 2 उम्मीदवारों को बराबर वोट मिल जाए, तो उनकी किस्मत का फैसला लॉटरी के माध्यम से किया जाएगा. आयोग के सूत्रों की मानें तो प्रत्याशियों को बराबर वोट मिलने पर लॉटरी एक ऐसा माध्यम होगा, जिससे विजेता घोषित करने का अंतिम विकल्प चुना जाएगा. लॉटरी होने के बाद निर्वाचित पदाधिकारी ही चुनाव परिणाम की घोषणा करेंगे. इसके बाद जिला निर्वाचन पदाधिकारी चुनाव में जीते प्रत्याशियों की सूची जिला गजट में प्रकाशित करने का आदेश देंगे. इसके साथ ही इसकी एक-एक कॉपी राज निर्वाचन आयोग और पंचायती राज निदेशक को मुहैया कराया जाएगा.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे हैं. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं.

फगानिस्तान में काबुल एयरपोर्ट और पंजशीर घाटी को छोड़कर सभी जगह तालिबान का कब्जा है. अब तालिबान पंजशीर पर बड़े हमले की फिराक में है. तालिबान के लड़ाके भारी हथियारों के साथ पंजशीर पर हमला करने पहुंच गए हैं. तालिबान ने चेतावनी दी है कि अगर शांतिपूर्ण तरीके से अहमद मसूद की सेनाएं सरेंडर नहीं करेंगी, तो उन पर हमला किया जाएगा. हालांकि, अहमद मसूद ने सरेंडर से साफ इनकार कर दिया है और जंग की चुनौती दी है. इस बीच टोलो न्यूज़ ने सूत्रों के हवाले से दावा किया है कि पंजशीर के लड़ाकों ने तालिबान पर रास्ते में घात लगाकर हमला किया. इस हमले में तालिबान के 300 लड़ाकों को मार दिया गया है. आपको बता दें कि तालिबान ने अफगानिस्तान के 33 प्रांतों पर कब्जा कर लिया है. सिर्फ पंजशीर प्रांत ही ऐसा है, जहां तालिबान की सत्ता नहीं है.

देश के कई हिस्‍सों में मॉनसून के कारण अधिक बारिश हुई है. लेकिन अब IMD यानी भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि मॉनसून अब फिर से आंशिक रूप से ब्रेक फेज पर जा रहा है. इसका मतलब हुआ कि अब उत्‍तर पूर्वी और मध्‍य भारत में कम से कम एक हफ्ते तक कम बारिश होगी. इससे पहले 29 जून से 11 जुलाई तक मॉनसून की बारिश में ‘ब्रेक’ लगा था और अगस्त के पहले दो हफ्तों में बहुत कमजोर मॉनसून देखा गया था. आईएमडी ने कहा है कि मॉनसून 19 अगस्त को उत्तर पश्चिम भारत में फिर से सक्रिय हुआ था, लेकिन 24 अगस्त से इसके फिर से कमजोर होने की संभावना है. मौसम विभाग के वरिष्‍ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि का कहना है, ‘उत्तर पश्चिम भारत में सोमवार से काफी कम बारिश होने की उम्मीद है. हम कम से कम 5 दिनों के लिए फिर से कमजोर मॉनसून की स्थिति की उम्मीद कर रहे हैं. पश्चिमी तट या उत्तर पश्चिम भारत में कोई बड़ी बारिश की उम्मीद नहीं है, लेकिन पूर्वी राज्यों विशेष रूप से पूर्वोत्तर में बारिश होगी.

जम्मू कश्मीर में हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के दोनों गुटों पर केंद्र सरकार जल्द ही बड़ा एक्शन ले सकती है. हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के दोनों गुटों पर UAPA के तहत प्रतिबंध लगाया जा सकता है. जम्मू कश्मीर के अधिकारियों ने कहा कि दो दशकों से अलगाववादी आंदोलन की अगुवाई कर रहे अलगाववादी संगठन हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के दोनों धड़ों पर गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) के तहत प्रतिबंध लगाया जा सकता है. अधिकारियों ने कहा कि गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम की धारा 3 (1) के तहत प्रतिबंधित होने की धारा लगाई जा सकती है. यदि कोई यूनियन एक गैर-कानूनी यूनियन बनता है तो केंद्र सरकार इस धारा के तहत आधिकारिक राजपत्र में नोटिफिकेशन जारी कर ऐसे यूनियन को गैर-कानूनी घोषित कर सकती है. उन्होंने कहा कि यह प्रस्ताव केंद्र की आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत रखा गया था.

मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर की गीता कॉलोनी में मुहर्रम के मौके पर पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगे थे. इस आरोप में गिरफ्तार किए गए 10 लोगों में से 4 के खिलाफ रविवार को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की गई है. कुछ दक्षिणपंथी संगठनों और भगवाधारी धर्मगुरुओं ने नारे लगाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी. उज्जैन पुलिस को अभी 6 लोगों की तलाश है. उज्जैन के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र शुक्ला ने इस बात की पुष्टि की है कि जिन्होंने कथित रूप से पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए, उनमें से 4 पर रासुका के तहत कार्रवाई की गई है. हालांकि उन्होंने इन चार आरोपियों के नाम बताने से इनकार कर दिया. पुलिस सूत्रों ने कहा कि उज्जैन के जिलाधिकारी ने पुलिस की सिफारिश पर चार आरोपियों पर रासुका की धारा लगाई है.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे थे. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं. न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में आज इतना ही. नई खबरों और नए अपडेट के साथ हम फिर मिलेंगे. तबतक के लिए दें विदा. नमस्कार.





Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *