PMCH का Oxygen plant शुरू, इस तरह दूर होगा बिहार के इन अस्पतालों का ऑक्सीजन संकट


कोरोना संकट में पीएमसीएच ने शुरू किया अपना ऑक्सीजन प्लांट, लिक्विड ऑक्सीजन से दूर होगा कई अस्पतालों का संकट.

कोरोना संकट में पीएमसीएच ने शुरू किया अपना ऑक्सीजन प्लांट, लिक्विड ऑक्सीजन से दूर होगा कई अस्पतालों का संकट.

पटना में जो निजी ऑक्सीजन प्लांट हैं वह पूरे शहर के हॉस्पिटलों में आपूर्ति के लिए नाकाफी है. इसी बीच ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए पीएमसीएच ने अपना खुद का ऑक्सीजन प्लांट चालू कर दिया है .

पटना. बिहार ( Bihar ) में कोरोना (Corona) लगातार अपना पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ता जा रहा है. दवाइयों और ऑक्सीजन की समस्या भी बढ़ते जा रही. अस्पतालों में अभी तक ऑक्सीजन की कमी पूरी नहीं की जा सकी है. पटना में जो निजी ऑक्सीजन प्लांट ( Oxygen plant ) हैं वह पूरे शहर के हॉस्पिटलों में आपूर्ति के लिए नाकाफी है. इसी बीच ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए पीएमसीएच ने अपना खुद का ऑक्सीजन प्लांट चालू कर दिया है . बिहार में ऑक्सीजन सप्लाई लगातार बहाल करने की कोशिश की जा रही है इसी क्रम में शुक्रवार को पटना के पीएमसीएच में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन किया गया. हॉस्पिटल के अधीक्षक आई. एस ठाकुर ने इस नए प्लांट का शुभारंभ करते हुए कहा कि इस ऑक्सीजन प्लांन से फिलहाल अभी 50 सिलेंडर रोज भरा जा सकता है. इमरजेंसी के हालात में अब पीएमसीएच को दूसरे ऑक्सीजन प्लांट पर आश्रित नहीं रहना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि जल्द ही पीएमसीएच में  लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट भी चालू हो जाएगा. ऑक्सीजन प्लांट के लिए निर्माण का काम शुरू है .साथ ही पीएमसीएच के अधीक्षक आई एस ठाकुर ने दावा करते हुए कहा कि एक महीने में दो और ऑक्सीजन प्लांट चालू हो जाएंगे . जिसके बाद मरीजों के इलाज के लिए बाहर से ऑक्सीजन मंगवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. फिलहाल अभी रोजाना पीएमसीएच को इलाज के लिए  800 से 900 ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत पड़ती है. लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट चालू होने पर 2000 से 2500 सिलेंडर रोज भरे जा सकेंगे. जिसके बाद पीएमसीएच से दूसरे हॉस्पिटलों को भी जरूरत पडऩे पर ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया कराई जा सकती है.

Youtube Video

कोरोनाकाल में भी धूल फांक रहीं 75 एंबुलेंसएक तरफ कोरोना काल में लोग एंबुलेंस के लिए परेशान है, दूसरी तरफ सारण के सांसद राजीव प्रताप रूडी के संसदीय कोष से खरीदी गई 75 एंबुलेंस अमनौर अमनौर में धूल फांक रहीं हैं. जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव शुक्रवार को अमनौर पहुंचे जहां उन्होंने इन एंबुलेंस को देखा और सिस्टम पर सवाल खड़े किए. पप्पू यादव ने जयप्रभा अस्पताल का जायजा लिया जहां यह तमाम एंबुलेंस पड़े हुए हैं. पप्पू यादव ने इस लापरवाही के लिए सिविल सर्जन समेत तमाम राजनेताओं को दोषी ठहराया. उन पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की.









Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *