इजराइल-हमास युद्ध में 103 की मौत: गाजा पट्टी पर इजराइली टैंक और आर्मी तैनात, अमेरिका ने UNSC की मीटिंग ब्लॉक की; मुस्लिमों देशों को इकट्ठा कर रहा तुर्की

[ad_1]

  • Hindi News
  • International
  • Israeli Tanks And Army Stationed On Gaza Strip, US Blocks UNSC Meeting; Turkey Is Gathering Muslim Countries

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तेल अवीव12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
इजराइली आर्मी के जमा होने के बाद गाजा पट्टी के आस-पास रहने वाले लोगों ने घर खाली करे शुरू कर दिए हैं। - Dainik Bhaskar

इजराइली आर्मी के जमा होने के बाद गाजा पट्टी के आस-पास रहने वाले लोगों ने घर खाली करे शुरू कर दिए हैं।

इजराइल और हमास की स्मॉल स्कैल वॉर (युद्ध का छोटा रूप) अब बड़ी जंग की तरफ बढ़ रही है। हमास और इजराइल के बीच हुए हमलों में अब तक 103 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें 27 बच्चे भी शामिल हैं। लड़ाई में 580 लोग घायल हो गए हैं। मरने वालों में 7 इजराइल के हैं। बाकी फिलिस्तान के हैं, जो इजराइल की एयरस्ट्राइक में मारे गए हैं।

इजराइल ने अपनी आर्मी और टैंक को गाजा पट्री के पास तैनात करना शुरू कर दिया है। एयरफोर्स ने भी एक्टिविटी बढ़ा दी है। आर्मी प्रवक्ता जॉन कॉन्रिकस ने शुक्रवार को कहा कि हम किसी भी तरह की जंग के लिए तैयार हैं। इजराइली आर्मी ने बताया कि गाजा पट्टी की तरफ से अब तक 1750 रॉकेट दागे गए हैं। जवाब में इजराइली सेना ने 600 बार एयरस्ट्राइक की है।

गाजी पट्टी पर हमास के ठिकानों पर एयरस्ट्राइक करता इजराइली एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर।

गाजी पट्टी पर हमास के ठिकानों पर एयरस्ट्राइक करता इजराइली एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर।

उधर, अमेरिका ने गुरुवार को होने वाली यूनाइटेड नेशंस सिक्योरिटी काउंसिल (UNSC) की मीटिंग को ब्लॉक कर दिया। US ने कहा कि इस मीटिंग से शांति कायम करने में कोई फायदा नहीं होगा। ये मीटिंग चीन की तरफ से बुलाई गई थी। वहीं, तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने इजराइल के खिलाफ मुस्लिम देशों को इकट्ठा करना शुरू कर दिया है। उन्होंने गुरुवार को रूस के राष्ट्र पति व्लादिमीर पुतिन को फोन लगाया। एर्दोगन ने पुतिन से कहा कि अब इजराइल को सबक सिखाने का समय आ गया है।

OIC जाएगा UN, गुतेरेस बोले- जंग रोकनी होगी
मुस्लिम देशों के संगठन ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉपरेशन (OIC) भी इजराइल और फिलिस्तीन के मसले पर एक्टिव हो गया है। तुर्की, सऊदी अरब और पाकिस्तान ने इस मुद्दे पर यूनाइटेड नेशंस की बैठक बुलाने का प्रस्ताव रखा था, जिसे OIC ने मंजूर कर लिया है। UN के महासचिव एंटोनियो गुतारेस ने इजराइल और हमास के बीच चल रही जंग को रोकने की अपील की है। गुतेरेस ने कहा कि पहले ही बहुत से निर्दोष लोगों की जान जा चुकी है। इस लड़ाई से दोनों देशों में कट्टरता बढ़ेगी।

इजराइली सैनिक उमर तबीब के फ्यूनरल में दुख जाहिर करते इजराइली आर्मी के सैनिक।

इजराइली सैनिक उमर तबीब के फ्यूनरल में दुख जाहिर करते इजराइली आर्मी के सैनिक।

इजराइल में दंगाइयों पर सख्ती शुरू
जंग के साथ दंगे झेल रहे इजराइल की पुलिस ने अब दंगाइयों पर सख्ती शुरू कर दी है। रक्षामंत्री बेनी गांट्ज ने दंगाइयों पर कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है। इजराइल और फिलिस्तीन के बीच शुरू हुई जंग के बाद इजराइल के कई शहरों में यहूदी और अरबी मूल के लोगों के बीच दंगे हो रहे हैं। इजराइल में दंगाई पुलिस स्टेशन पर हमला कर रहे हैं। दंगों के सबसे ज्यादा मामले यरुशलम, लॉड, हाइफा और सखनिन शहर में सामने आए हैं। हालात इतने खराब हो गए कि लॉड शहर में इमरजेंसी लगानी पड़ी। 1966 के बाद ऐसा पहली बार है, जब दंगों की वजह से यहां इमरजेंसी लगाई गई है। दंगों में 36 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इजराइल की पुलिस ने दंगों में शामिल 400 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता मिकी राजनफील्ड ने बताया कि उन्होंने इस तरह के दंगे कई दशकों से नहीं देखे हैं। प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने कहा कि यदि स्थिति पुलिस के हाथ से बाहर चली जाती है तो देश के अंदर आर्मी तैनात की जाएगी।

इजराइल की पुलिस अब तक दंगों में शामिल 400 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

इजराइल की पुलिस अब तक दंगों में शामिल 400 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

रॉकेट हमले से बचने फ्लाइट डायवर्ट कीं
गुरुवार रात गाजा पट्टी से इजराइली शहर अशदोद, अश्केलान और तेल अवीव के बेन गुरियन एयरपोर्ट पर दर्जनों रॉकेट दागे गए। हमास की तरफ से लगातार रॉकेट दागे जाने के बाद इजराइल ने तेल अवीव के बेन गुरियन एयरपोर्ट पर आने वाली फ्लाइट्स को रेमोन एयरपोर्ट पर डाइवर्ट कर दिया है। हलांकि, हमास का कहना है कि वे रेमोन एयरपोर्ट पर भी रॉकेट दागेंगे ताकि इजराइल में आने वाली सभी फ्लाइट्स बंद हो जाएं।

अपने बच्चे को लेकर हमले से बचने के लिए सुरक्षित स्थान पर जाती फिलिस्तीनी महिला।

अपने बच्चे को लेकर हमले से बचने के लिए सुरक्षित स्थान पर जाती फिलिस्तीनी महिला।

गाजा पट्टी के बाद लेबनान की तरफ से दागे 3 रॉकेट
फिलिस्तीन के रॉकेट हमले झेल रहे इजराइल पर गुरुवार को लेबनान की तरफ से भी 3 रॉकेट दागे गए। हालांकि, वहां के आतंकी संगठन हिजबुल्ला ने इस घटना में अपना हाथ होने से इनकार कर दिया है। इधर, गाजा पट्टी पर इजराइल की एयर स्ट्राइक जारी है। गाजा पट्टी के पास रहने वाले लोग अपने घरों को छोड़कर जा रहे हैं। उन्हें डर है कि यहां अचानक जंग शुरू हो सकती है। हमास (इजराइल इसे आतंकी संगठन मानता है) ने जंग होने पर इजराइली सेना को मुंहतोड़ जवाब देने की बात कही है।

केरल की महिला के परिवार की देखभाल करेगा इजराइल

इजरायल ने रॉकेट हमले में मारी गई केरल की महिला सौम्या संतोष के परिवार का खर्च उठाने का फैसला किया है। भारत में इजरायल की उप उच्चायुक्त रॉनी येदिदिया ने बताया कि सौम्या के परिवार को इजरायल की तरफ से मुआवजा तो दिया ही जाएगा। साथ ही उनका खर्च भी इजरायल उठाएगा।

सौम्या संतोष इजराइल के अश्केलान शहर में 80 साल की महिला की देखभाल करती थीं।

सौम्या संतोष इजराइल के अश्केलान शहर में 80 साल की महिला की देखभाल करती थीं।

केरल के इडुक्की जिले की सौम्या संतोष (32) हमास के मिसाइल अटैक में मारी गईं थीं। सौम्या अश्केलान शहर में 80 साल की एक बुजुर्ग महिला की देखभाल का काम करती थीं। सौम्या पिछले 7 सालों से इजराइल में रह रही थीं। उनका 9 साल का एक बेटा है, जो पति के पास इडुक्की में रहता है। हमले के समय सौम्या अपने पति से वीडियो कॉल पर बात कर रही थीं।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: