RJD विधायक बोले- पप्पू की गिरफ्तारी लालू का वोट बैंक तोड़ने की साजिश, JDU ने पूछा ये सवाल

[ad_1]

राजद के मधेपुरा से विधायक चंद्रशेखर तेजस्वी यादव के साथ

राजद के मधेपुरा से विधायक चंद्रशेखर तेजस्वी यादव के साथ

Pappu Yadav News: पप्पू यादव की गिरफ्तारी को राजद विधायक ने स्टंट करार दिया है और कहा है कि सोशल जस्टिस को कमजोर कर सांप्रदायिक ताकतों को मजबूती देने के लिए. उनकी गिरफ्तारी का खेल खेला गया है.

पटना. पूर्व सांसद पप्पू यादव (Pappu Yadav) को 32 साल पुराने मामले में जेल भेजे जाने के बाद से ही बिहार की सियासत गर्माई हुई है. राजद के मधेपुरा से विधायक चंद्रशेखर ने प्रेस वार्ता कर पप्पू यादव पर कई गम्भीर आरोप लगाते हुए हमला बोला था. राजद विधायक ने पप्पू यादव पर आरोप लगाते हुए कहा था कि किसी दौर का डाकू रत्नाकर महर्षि वाल्मिकी बन गया था लेकिन दूसरा कोई संत नहीं बन सकता. पप्पू यादव को सेटिंग के तहत गिरफ्तार किया गया है. सरकार और पप्पू की सेटिंग है ताकि लालू-तेजस्वी (Lalu-Tejashwi) को कमजोर किया जा सके. आरजेडी के विधायक चंद्रशेखर ने कहा कि पप्पू यादव की गिरफ्तारी शासन-सत्ता की साजिश है. सामाजिक न्याय की धारा को कमजोर करने के लिए और सोशल जस्टिस को कमजोर कर सांप्रदायिक ताकतों को मजबूती देने के लिए. उनकी गिरफ्तारी का खेल खेला गया है. इसमें साजिश है सरकार में बैठे लोगों की. आज पप्पू यादव की गिरफ्तारी का सीधा मतलब है हमारे यानी राजद के वोटरों में कनफ्यूजन पैदा करना. RJD के विधायक चंद्रशेखर ने कहा कि लालू यादव के जेल से बाहर आने के बाद ही पप्पू यादव की गिरफ्तारी क्यों हुई. सब सेटिंग है. अभी गिरफ्तारी हुई है, पांच-दस दिनों में बेल हो जायेगी औऱ फिर पप्पू यादव लालू- यादव और तेजस्वी यादव के ख़िलाफ़ बोलेंगे जिसका फ़ायदा सत्ता पक्ष उठाने की कोशिश करेगा. राजद विधायक के इसी बयान के बाद JDU प्रवक्ता और मधेपूरा से JDU से विधान सभा उम्मीदवार रह चुके निखिल मंडल ने पलटवार करते हुए एक पुराना पोस्टर जारी किया. मंडल ने कहा कि राजद के मधेपुरा विधायक प्रो.चंद्रशेखर यादव ने प्रेस कांफ्रेंस करके पप्पू यादव जी को चोर-गुंडा,एनडीए का एजेंट और ना जाने क्या क्या कह कर पप्पू यादव जी का कैरेक्टर सर्टिफिकेट बांट रहे थे. अब ये देखिए ये वही चंद्रशेखर जी है जो 2005 के मधेपुरा विधानसभा चुनाव में निर्दलीय लड़े और वो भी पप्पू यादव के समर्थन से लड़े थे और पप्पू यादव जिंदाबाद का नारा लगाया करते थे.निखिल मंडल ने कहा कि उनकी तारीफ के पुल बांधा करते थे और आज मधेपुरा विधायक पप्पू जी को गालियां दे रहे है मतलब काम निकल गया तो पहचानते नहीं. मजेदार बात ये है कि पप्पू यादव, चंद्रशेखर और निखिल मंडल तीनों 2020 बिहार विधानसभा चुनाव मधेपुरा से एक दूसरे के खिलाफ लड़े थे लेकिन जीत चंद्रशेखर की हुई थी.







[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: