पूर्णिया : लॉकडाउन में पिंपल का इलाज कराने के लिए मांगा ई-पास तो डीएम ने दिया यह जवाब…

[ad_1]

लॉकडाउन के दौरान ई-पास के लिए तरह-तरह के बहाने बना रहे हैं लोग.

लॉकडाउन के दौरान ई-पास के लिए तरह-तरह के बहाने बना रहे हैं लोग.

एक शख्स ने ई-पास के लिए आवेदन करते हुए लिखा कि उसे अपने पिंपल्स का इलाज कराने के लिए वाहन का ई-पास चाहिए. बता दें कि लॉकडाउन के दौरान वाहनों के ई-पास के लिए ऑनलाइन आवेदन करना पड़ता है.

पूर्णिया. एक तरफ जहां कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते राज्य सरकार ने पूरे बिहार में लॉकडाउन लगाया है, वहीं दूसरी तरफ उसने लॉकडाउन में किसी जरूरतमंद को परेशान न होना पड़े इसके लिए उसने जिला पदाधिकारी द्वारा वाहन का ई-पास बनाने का प्रावधान भी किया गया है. अब इस सुविधा का लाभ लेने के लिए डीएम के पास तरह-तरह के अप्लिकेशन आने लगे हैं. एक शख्स ने ई-पास के लिए आवेदन करते हुए लिखा कि उसे अपने पिंपल्स का इलाज कराने के लिए वाहन का ई-पास चाहिए. बता दें कि लॉकडाउन के दौरान वाहनों के ई-पास के लिए ऑनलाइन आवेदन करना पड़ता है. डीएम राहुल कुमार ने अपने एक ट्वीट में इस आवेदन का जिक्र करते हुए लिखा है कि भाई अभी आपके पिंपल्स का इलाज वेट कर सकता है. DM ने अपने इस ट्वीट के साथ उस आवेदन का कुछ अंश भी अटैच किया है, जिसमें उन्होंने DM को ई-पास का आवेदन देते हुए आग्रह किया है कि वाहन का दोनों तरफ का ई-पास जारी किया जाए. DM ने खुद अपने ट्वीट में लिखा है कि इस लॉकडाउन के समय कई लोग ई-वाहन पास के लिए आवेदन कर रहे हैं. इसमें से कई सही भी है. लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं जो कई तरह के बहाने बनाकर ई-पास लेना चाह रहे हैं. इसी में एक युवक ने अपने चेहरे और माथे पर पिंपल्स का इलाज कराने के लिए दो तरफा वाहन का ई-पास के लिए आवेदन दिया है. अभी लॉकडाउन के समय जहां पूर्णिया समेत पूरे बिहार में प्रशासन सख्ती बरत रहा है और लोगों का घर से बाहर बेवजह घूमने पर प्रतिबंध लगा है. वहीं कुछ मनचले और उदंड टाइप लोग बाहर निकलकर मटरगश्ती कर रहे हैं और कोरोना को निमंत्रण देने में लगे हैं.







[ad_2]

Source link

Live Sachcha Dost TV

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: